कोशिका (Cell) का सामान्य परिचय संरचना तथा प्रकार

Originally posted 2017-11-11 12:40:46.

Hello Biology Lovers, आज के हमारे ब्लॉग का शीर्षक है-  कोशिका (Cell) का सामान्य परिचय संरचना तथा प्रकार


Cytology (कोशिका विज्ञान)


जीव विज्ञान की इस शाखा में  कोशिकाओ की संरचना और कार्य का अध्ययन किया जाता है । यह शब्द हर्टविग द्वारा दिया गया था ।
Cells की खोज रॉबर्ट हुक द्वारा की गई तथा उन्होंने  कॉर्क में मृत कोशिका को देखा। इसलिए रॉबर्ट हूक(Robert Hooke) को  साइटोलोजी  का


कोशिका सिद्धांत (Cell Theory) –


माल्थियस शेलेडेन(Malthias Sheleiden) और थिओडोर श्वान (Theodor Schwann) द्वारा प्रस्तुत किया गया। इसके अनुसार कोशिका जीवन की कार्यात्मक, संरचनात्मक और वंशागत इकाई है।
रूडोल्फ विर्चो ने कहा कि ओमनिस सेल्यूला ई-सेलुला जिसका मतलब है कि पहले से मौजूद कोशिकाओं से नए कोशिकाएं बनती हैं।
कोशिका सिद्धांत है –
(ए) सभी जीवित जीव कोशिकाओं और कोशिकाओं के उत्पाद से बना है।
(बी) सभी कोशिकाएं पूर्व-मौजूदा कोशिकाओं से उत्पन्न होती हैं।



कोशिका सिद्धांत के अपवाद (Exception of cell theory): –

(I) Virus: – अकोशिकीय,केवल (II) Viriods: – वे केवल (V) RBC: – केन्द्रक अनुपस्थित (उंट व लामा के आरबीसी में केन्द्रक उपस्थित होते है)
(VI) बहूकेन्द्रकी जीव (Multi Nucleate Organism) : – जन्तुओं में Syncytium, पौधों में कोनोसाइट, अवपंक कवक में (slime moulds) प्लाइमोडियम ।
(VII) बी और टी

कोशिकाओ का आकार (Cell Size):-


माइकोप्लाज्मा: – सबसे छोटी कोशिका , लंबाई में 0.3 माइक्रोमीटर
बैक्टीरिया: – लंबाई में 3-5 माइक्रोमीटर
मानव आरबीसी: – 7 माइक्रोमीटर
तंत्रिका कोशिका: – सबसे लंबी कोशिका ,लंबाई में 90cm
Boemeria nivea: – सबसे लंबी पादप कोशिका
एसेटाबुलेरिया: – सबसे लंबा एककोशिकीय पादप
शुतुरमुर्ग अंडा- सबसे बड़ी एकल कोशिका




कोशिकाओ की आकृति(Cell Shape): –


कोशिकाएं डिस्क जैसी, बहुभुज, स्तंभ, घनाभ, धागे समान या अनियमित होती हैं।

कोशिका का प्रकार(Type of cell): –

C. B. Van Neil ने कोशिकाओं को दो वर्गों में वर्गीकृत किया –


प्रोकैरियोक्टिक कोशिका(Prokaryotic cell):

 

यूकेरियोटिक कोशिका(Eukaryotic Cell):-

 

  1. Eu- विकसित, Karyon- केन्द्रक।
  2. यूकेरियोटिककोशिका में विकसित केन्द्रक पाया जाता हैं।
  3. इनमें एक या एक से अधिक केन्द्रक होते हैं।
  4. इनका आनुवंशिक पदार्थ गुणसूत्र में व्यवस्थित होता हैं।
  5. यूकेरियोटिक कोशिका  में झिल्ली आबंध कोशिकांग होते हैं।
  6. सभी पौधे, जानवर, कवक, प्रोटीस्ट में यूकेरियोटिक कोशिकाएं होती हैं।
  7. पादप और जन्तु कोशिकाओं में भी अन्तर होता हैं।